Current Affairs one liner
हिंदी करेंट अफेयर्स वन लाइनर (Hindi Current Affairs One Liner) : 14 सितंबर 2022
September 14, 2022
Sri Lanka
श्रीलंका (Srilanka) में महंगाई बढ़कर 70.2% हुई
September 26, 2022

फ्राइडेज़ फॉर फ्यूचर (Fridays for Future) कार्यकर्ताओं ने जर्मनी और अन्य देशों में जलवायु परिवर्तन के विरोध प्रदर्शन शुरू किए हैं।

प्रमुख तथ्‍य

  1. फ्राइडेज़ फॉर फ्यूचर मूवमेंट के हिस्से के रूप में जर्मनी भर के 270 से अधिक शहरों और कस्बों में लगभग 2,80,000 लोग प्रदर्शनों में हिस्सा ले रहे हैं।
  2. सबसे बड़ी रैलियों में से एक बर्लिन में हुई, जहाँ 36,000 से अधिक लोग एकत्रित हुए।
  3. ये प्रदर्शनकारी ग्लोबल वार्मिंग को रोकने का आह्वान कर रहे हैं और जर्मन सरकार से अक्षय ऊर्जा के उपयोग का विस्तार करने के लिए 100 बिलियन यूरो का फंड स्थापित करने की मांग कर रहे हैं।
  4. वे विकासशील देशों के वित्तीय और जलवायु ऋणों को रद्द करने की भी मांग कर रहे हैं।
  5. ये विरोध प्रदर्शन संयुक्त राष्ट्र जलवायु शिखर सम्मेलन (COP27) की शुरुआत से 6 सप्ताह पहले आयोजित किए गए थे, जो मिस्र के शर्म अल-शेख में होने वाला है।
  6. इटली, दक्षिण कोरिया, अमेरिका और कांगो लोकतांत्रिक गणराज्य जैसे देशों में भी इसी तरह के विरोध प्रदर्शन हुए हैं।

फ्राइडेज़ फॉर फ्यूचर मूवमेंट (Fridays for Future Movement) क्या है?

फ्राइडेज़ फॉर फ्यूचर एक अंतर्राष्ट्रीय छात्र आंदोलन है जिसका उद्देश्य सक्रिय अभियान और वकालत के माध्यम से तत्काल जलवायु कार्रवाई की ओर बढ़ना है। जलवायु संकट के कारण होने वाले प्रतिकूल प्रभाव के बारे में जागरूकता पैदा करने में इसकी भूमिका के कारण इसे ‘Champion of the Earth’ के रूप में चुना गया था। यह आंदोलन ग्रेटा थनबर्ग से प्रेरित था, जो जलवायु आपातकाल की ओर राजनीतिक ध्यान आकर्षित करने के लिए स्वीडिश संसद के सामने तीन सप्ताह तक विरोध में बैठी रहीं। अब, यह वैश्विक आंदोलन दुनिया भर के 100 से अधिक देशों में फैल गया है।

Champion of the Earth

‘Champion of the Earth’ संयुक्त राष्ट्र द्वारा प्रदान किया जाने वाला एक प्रमुख पर्यावरण पुरस्कार है। यह 2005 में संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण कार्यक्रम द्वारा स्थापित किया गया था। यह पर्यावरण की सुरक्षा और जलवायु परिवर्तन को संबोधित करने में शामिल व्यक्तियों और संगठनों को सम्मानित करता है।

Comments are closed.