अमेरिका ने मानव अंतरिक्ष यात्रा के लिए ब्लू ओरिजिन (Blue Origin) को मंजूरी दी
July 13, 2021
बिटकॉइन हार्डवेयर वॉलेट (Bitcoin Hardware Wallet) क्या है?
July 13, 2021
Show all

यूके ने भारत को 50 वर्षों में पहली बार सेब का निर्यात किया

यूनाइटेड किंगडम ने 50 वर्षों में पहली बार भारत को सेब का निर्यात किया है।

ये हैं खास बातें

  • यूके और भारत के बीच मजबूत व्यापार साझेदारी के संकेत के रूप में, अंतर्राष्ट्रीय व्यापार के लिए यूके के विदेश मंत्री लिज़ ट्रस (Liz Truss) द्वारा सेब के निर्यात का स्वागत किया गया।
  • सेब का निर्यात Enhanced Trade Partnership के तहत किया गया था, जिस पर मई, 2021 में दोनों देशों के प्रधानमंत्रियों ने सहमति जताई थी। Enhanced Trade Partnership को Comprehensive Free Trade Agreement (FTA) का पूर्ववर्ती माना जाता है।
  • बाद में ट्रस और वाणिज्य व उद्योग मंत्री पीयूष गोयल ने औपचारिक रूप से समझौते पर हस्ताक्षर किए, 2030 तक यूनाइटेड किंगडम और भारत के बीच द्विपक्षीय व्यापार को दोगुना करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।

पृष्ठभूमि

मई 2021 में, यूके सरकार ने यूके-इंडिया एफटीए पर औपचारिक रूप से बातचीत करने से पहले सार्वजनिक और कॉर्पोरेट विचारों की मांग करते हुए 14 सप्ताह की बातचीत शुरू की थी। यूके के अनुसार, वह भारत की 2 ट्रिलियन पाउंड की अर्थव्यवस्था और 1.4 बिलियन उपभोक्ताओं के बाजार के साथ व्यापार करने की बाधाओं को दूर करके व्यापार करना चाहता है। कुछ उपायों में शामिल हैं- व्हिस्की पर 150% तक और ब्रिटिश कारों पर 125% तक के टैरिफ को समाप्त करना।

FTA का उद्देश्य

भारत के साथ मुक्त व्यापार समझौता (Free Trade Agreement – FTA) यूके की सेवा कंपनियों को भारतीय बाजार में व्यापार करने और अंतर्राष्ट्रीय सेवा केंद्र के रूप में यूके की स्थिति को बढ़ाने के उद्देश्य से किया गया था।

भारत और ब्रिटेन के बीच व्यापार

नवीनतम आंकड़ों के अनुसार, 2019 में यूके और भारत के बीच व्यापार लगभग 23 बिलियन पाउंड था। दोनों देश रोडमैप 2030 टाइमलाइन के तहत व्यापार मूल्य को दोगुना करना चाहते हैं। वित्तीय वर्ष 2021 में यूके को भारत का माल निर्यात 6.4% घटकर 8.2 बिलियन डॉलर हो गया है। आयात भी 26.17% घटकर 4.95 बिलियन डॉलर हो गया। भारत यूके में दूसरा सबसे बड़ा निवेशक है जबकि यूके भारत में दूसरा सबसे तेजी से बढ़ने वाला G20 निवेशक रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *