अंतर्देशीय पोत विधेयक (Inland Vessels Bill) को कैबिनेट ने मंजूरी दी
June 21, 2021
Current Affairs Quiz : 22 June 2021 करेंट अफेयर्स क्विज
June 22, 2021
Show all

IMD ने विश्व प्रतिस्पर्धात्मकता सूचकांक (World Competitiveness Index) जारी किया

विश्व प्रतिस्पर्धात्मकता सूचकांक (World Competitiveness Index) Institute for Management Development (IMD) द्वारा संकलित किया गया है जो दुनिया भर की अर्थव्यवस्थाओं पर COVID-19 के प्रभाव की जांच करता है।

ये हैं खास बातें

इस सूचकांक में 64 देशों में भारत 43वें स्थान पर था।
स्विट्जरलैंड इस सूची में सबसे ऊपर है और उसके बाद स्वीडन, डेनमार्क, नीदरलैंड और सिंगापुर का स्थान है।
ताइवान को 8वेंस्थान पर रखा गया था , जो 33 वर्षों में पहली बार शीर्ष -10 में पहुंचा।
यूएई 9वें और अमेरिका 10वें स्थान पर हैं।
शीर्ष प्रदर्शन करने वाली एशियाई अर्थव्यवस्थाओं में सिंगापुर (5वें), हांगकांग (7वें), ताइवान (8वें) और चीन (16वें) शामिल हैं।

IMD World Competitiveness Ranking

यह सूचकांक 64 अर्थव्यवस्थाओं को रैंक करता है और यह आकलन करता है कि कोई भी देश अपने लोगों की समृद्धि को किस हद तक बढ़ावा देता है। इस सूचकांक ने 33 साल पहले डेटा और अधिकारियों के सर्वेक्षण प्रतिक्रियाओं के माध्यम से देशों की भलाई को मापकर देशों की रैंकिंग शुरू की थी। इसे IMD World Competitiveness Center द्वारा जारी किया जाता है।

ब्रिक्स राष्ट्र

ब्रिक्स में चीन (16वें) के बाद भारत (43वें) दूसरे स्थान पर है। भारत के बाद रूस (45वें), ब्राजील (57वें) और दक्षिण अफ्रीका (62वें) स्थान पर है।

भारत की रैंक में सुधार कैसे हुआ?

कोविड-19 महामारी के बीच अपेक्षाकृत स्थिर सार्वजनिक वित्त के कारण भारत ने सरकारी दक्षता कारक (government efficiency factor) में सुधार दर्ज किया है। इस रिपोर्ट के अनुसार नवाचार में निवेश, कल्याणकारी लाभ और नेतृत्व, डिजिटलीकरण जैसे गुणों ने देशों को उच्च रैंक प्राप्त करने में मदद की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *