बिम्सटेक (BIMSTEC) के 24 वर्ष पूरे हुए, जानिए क्या है बिम्सटेक?
June 8, 2021
PM Narendra Modi
18 वर्ष से अधिक के लोगों को मिलेगा मुफ्त में कोरोना का टीका, 80 करोड़ लोगों को मिलेगा मुफ्त में अनाज
June 8, 2021
Show all

अमेरिका में सौर ऊर्जा से चलने वाली बिटकॉइन माइनिंग फैसिलिटी लांच की गयी

ट्विटर के सीईओ जैक डोर्सी (Jack Dorsey) के अनुसार उनकी एक अन्य कंपनी स्क्वायर (Square) अमेरिका में एक ओपन-सोर्स, सौर-संचालित बिटकॉइन माइनिंग फैसिलिटी बनाने के लिए ब्लॉक-स्ट्रीम माइनिंग के साथ साझेदारी करेगा। सौर-संचालित बिटकॉइन माइनिंग फैसिलिटी का लांच बिटकॉइन पारिस्थितिकी तंत्र के भीतर अक्षय ऊर्जा को अपनाने और दक्षता को बढ़ावा देगा। यह साझेदारी यह प्रदर्शित करने का प्रयास करती है कि कैसे अक्षय ऊर्जा के साथ बिटकॉइन माइनिंग स्वच्छ ऊर्जा संक्रमण को चलाने में मदद कर सकता है।

ये हैं खास बातें

यह साझेदारी ऐसे समय में हुई है जब टेस्ला के सीईओ एलोन मस्क (Elon Musk) ने सतत बिटकॉइन माइनिंग (sustainable bitcoin mining) को बढ़ावा देने के लिए अमेरिकी क्रिप्टो माइनर्स के साथ एक परिषद की स्थापना की। डोर्सी और मस्क दोनों की क्रिप्टोकरेंसी के विकास में बहुत रुचि है। उनका मानना ​​है कि बिटकॉइन जल्द ही इंटरनेट की दुनिया की सबसे बड़ी मुद्रा बन जाएगी।

माइनिंग फैसिलिटी के लिए फंडिंग

स्क्वायर द्वारा सौर ऊर्जा संचालित बिटकॉइन माइनिंग फैसिलिटी में $5 मिलियन का निवेश किया जाएगा।

क्यों पड़ी आवश्यकता?

बिटकॉइन माइनिंग की अक्सर दुनिया भर में इसकी उच्च ऊर्जा-खपत (high energy-consumption) के लिए आलोचना की जाती है। एक अनुमान के अनुसार, यह प्रति वर्ष 22.9 मिलियन मीट्रिक टन कार्बन डाइऑक्साइड उत्सर्जन उत्पन्न करता है जो श्रीलंका और जॉर्डन द्वारा उत्पादित उत्सर्जन स्तरों के बराबर है। इसके लिए कोयले से उत्पन्न उर्जा का उपयोग किया जाता है जिसका जीवाश्म ईंधन में सबसे खराब उत्सर्जन होता है। सौर ऊर्जा संचालित माइनिंग फैसिलिटी का विकास उत्सर्जन को कम करने में मदद करेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *