WHO ने भारत में पाए जाने वाले COVID-19 वेरिएंट का नामकरण किया
June 3, 2021
गोवा सरकार ने Goa Institution for Future Transformation (GIFT) की स्थापना की
June 3, 2021

आईआईटी रोपड़ (IIT Ropar) ने “एंबीटैग” (AmbiTAG) विकसित किया है जो कोल्ड चेन प्रबंधन के लिए विकसित भारत का पहला स्वदेशी तापमान डेटा लॉगर (temperature data logger) है।

AmbiTAG

AmbiTAG को USB डिवाइस के आकार का बनाया गया है। यह लगातार अपने आसपास के तापमान को रिकॉर्ड करता है। यह बाजार में उपलब्ध अन्य उपकरणों के विपरीत 90 दिनों के लिए किसी भी समय क्षेत्र में सिंगल चार्ज पर “-40 से +80 डिग्री” तापमान का पता लगा सकता है, बाज़ार में उपलब्ध अन्य उपकरण केवल 30- 60 दिनों की अवधि के लिए डेटा रिकॉर्ड करते हैं। इस USB को किसी भी कंप्यूटर से कनेक्ट करके रिकॉर्ड किए गए डेटा को पुनः प्राप्त किया जा सकता है।

लॉगर का महत्व

लॉगर द्वारा दर्ज तापमान आगे यह जानने में मदद करेगा कि क्या दुनिया में कहीं से भी परिवहन की जाने वाली विशेष वस्तु अभी भी प्रयोग करने योग्य है या तापमान भिन्नता के कारण नष्ट हो गई है।
यह जानकारी कोविड-19 वैक्सीन, अंगों और रक्त परिवहन इत्यादि के लिए महत्वपूर्ण है।
सब्जियों, मांस और डेयरी उत्पादों जैसी खराब होने वाली वस्तुओं के अलावा यह पारगमन के दौरान पशु वीर्य के तापमान की निगरानी कर सकता है।

डिवाइस का विकास किसने किया?

Ambitag को टेक्नोलॉजी इनोवेशन हब – AWADH (Agriculture and Water Technology Development Hub) और इसके स्टार्टअप ScratchNest के द्वारा विकसित किया गया है।

AWaDH

AWADH IIT रोपड़ में एक शोध केंद्र है। यह विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग (DST) और विज्ञान और इंजीनियरिंग अनुसंधान बोर्ड (SERB) के समर्थन से स्थापित किया गया था। यह कृषि और पानी के क्षेत्र में व्यापक शोध करता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *