Chabahar Day india 4 march theedusarthi
Maritime India Summit 2021 : जानें भारत चाबहार दिवस के बारे में
March 4, 2021
kieron-pollard-six-sixes-in-one-over-theedusarthi
Kieron Pollard : पोलार्ड ने मारे एक ओवर में छह छक्के, गिब्स और युवराज की श्रेणी में शामिल
March 4, 2021

भारत में 10 लाख से ज्यादा आबादी वाले शहरों में रहने के लिए बेंगलुरू सबसे बेस्ट शहर बन गया है। वहीं 10 लाख से कम आबादी वाले शहरों में शिमला सबसे टॉप पर रहा। केंद्रीय आवास और शहरी मामलों के मंत्रालय ने 4 मार्च 2021 यानि गुरूवार को ईज ऑफ लिविंग इंडेक्स रैंकिंग-2020 जारी की। केंद्रीय आवास और शहरी मामलों के मंत्री हरदीप सिंह पूरी ने यह रिपोर्ट जारी की। देश की राजधानी दिल्ली इन दोनों कैटगरी में 10 वे नंबर तक भी नहीं पहुंच पाई। दिल्ली 13 वें नंबर पर ही सिमटकर रह गई।

111 शहरों में हुए सर्वे

रहने के लिए सबसे बेस्ट शहरों की रैंकिंग में देश भर के 111 शहरों ने हिस्सा लिया। शहरों को दो कैटगरी में बांटा गया। पहली कैटगरी में वे शहर शामिल किए गए जिनकी आबादी 10 लाख से ज्यादा थी वहीं दूसरी कैटगरी में उन शहरों को शामिल किया गया जिनकी आबादी 10 लाख से कम थी। इन शहरों में यह बात देखी की गई कि इनमें रहने की गुणवत्ता किस स्तर की है साथ ही जो विकास के काम किए गए हैँ उनका लोगों के जीवन पर क्या असर पड़ रहा है और पड़ा है।

2018 में हुई थी रैंकिंग की शुरुआत

पहली बार 2018 में शहरों की रैंकिंग की गई थी अब यह दूसरी बार जब 2020 में शहरों की रैंकिंग की गई। इस कैटगरी में मुख्य रूप से तीन पिलर्स हैं, ये पिलर्स रहने की गुणवत्ता जिसके रैंकिंग के लिए 35 फीसदी अंक रखे गए थे। दूसरा पिलर आर्थिक योग्यता इसके लिए 15 फीसदी अंक और विकास की स्थिरता कैसी है इसके लिए 20 फीसदी अंक तय किए गए, बाकी 30 फीसदी लोगों के बीच किया गया सर्वे के लिए तय किए गए थे, जबकि 49 इंडिकेशंस से जिनके आधार पर इनकी रैंकिंग की गई।

यह भी पढ़ें— Quiz : फरवरी 2021 टॉप 10 करेंट अफेयर्स क्विज

इन बातों पर बनी रैंकिंग

इन शहरों के लिए 14 कैटगरी बनाई गई। इन कैटगरी में उस शहर की शिक्षा का स्तर, स्वास्थ्य, आवास और आश्रय, साफ सफाई, ट्रांसपोर्ट सिस्टम, सुरक्षा व्यवस्था, आर्थिक विकास का स्तर, आर्थिक अवसर, पर्यावरण, हरित क्षेत्र, इमारतें, एनर्जी खपत जैसे कैटगरी की समीक्षा की गई। इसके बाद वहां के लोगों के बीच सर्वे किया गया। यह सर्वे 19 जनवरी, 2020 से मार्च, 2020 के तहत किया गया। इस सर्वे में 32 लाख 20 हजार लोगों ने अपनी राय दी। यह राय ऑनलाइन फीडबैक, क्यू आर कोड, फेस टू फेस सहित कई माध्यमों के जरिए लिया गया। उसके बाद सभी 111 शहरों की समीक्षा करने के बाद उनकी रैंकिंग दी गई।

10 लाख से ज्यादा आबादी वाले शहरों की रैंकिंग लिस्ट

शहर                       स्कोर
बेंगलुरू                    66.70
पुणे                         66.27
अहमदाबाद             64.87
चेन्नई                    62.61
सूरत                      61.73
नवी मुंबई               61.60
कोयम्बटूर             59.72
वडोदरा                   59.24
इंदौर                     58.58
ग्रेटर मुंबई             58.23

यह भी पढ़ें— SANSAD TV : राज्यसभा टीवी और लोकसभा टीवी का हुआ विलय, अब संसद टीवी

10 लाख से कम आबादी वाले शहरों की रैंकिंग

शहर                   स्कोर
शिमला               60.90
भुवनेश्वर            59.85
सिल्वासा             58.43
काकिनाडा          56.84
सेलम                  56.40
वेल्लोर               56.38
गांधीनगर           56.25
गुरूग्राम             56.00
दावनगेरे            55.25
तिरुचिरापल्ली    55.24

यह भी पढ़ें— Atal Bihari Vajpayee : भारतरत्न पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी विशेष

यह भी पढ़ें— National War Memorial : राष्ट्रीय युद्ध स्मारक विशेष

यह भी पढ़ें— RBI : एक देश एक लोकपाल की राह पर आरबीआई, जानें क्या होगा फायदा

यह भी पढ़ें— Radio : … इसलिये मनाया जाता है विश्‍व रेडियो दिवस

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *