30-april-2021-Current-affairs-quiz-theedusarthi
Quiz : 25 फरवरी 2021 करेंट अफेयर्स क्विज
February 25, 2021
UTS-theedusarthi
Indina Railways : यूटीएस ऑन मोबाइल एप, जानें UTS की विशेषता
February 26, 2021

दुनिया के देशों की आर्थिक स्थिति का आकलन करने वाली अमेरिकी रेटिंग एजेंसी मूडीज ने वर्ष 2021-22 के लिए भारत के विकास संबंधी अपने पहले पूर्वानुमान में संशोधन करते हुए इसे 10.8 प्रतिशत से बढ़ाकर 13.7 प्रतिशत कर दिया है। ग्‍लोबल मैक्रो आउटलुक 2021-21 नाम की अपनी रिपोर्ट में मूडीज ने कहा है कि भारत की अर्थव्‍यवस्‍था दुनिया के सबसे लंबे और सबसे कठोर लॉकडाउन से बड़ी तेजी से उभर कर सामने आई है, जबकि 2020 की दूसरी तिमाही में भारत के सकल घरेलू उत्‍पाद में जबर्दस्‍त गिरावट भी देखी गई थी।

चालू वित्‍त वर्ष में मूडीज को उम्‍मीद है कि भारतीय अर्थव्‍यवस्‍था मे 7 प्रतिशत का ही संकुचन होगा, जोकि उसके 10.6 प्रतिशत के उसके पहले के अनुमान से कहीं कम है। एजेंसी ने भारतीय अर्थव्‍यवस्‍था के बारे में यह आकलन कोविड टीके के बाजार में आने के बाद स्थिति में सुधार और अर्थव्‍यवस्‍था पर बढ़ते भरोसे के मद्देनजर दिया है।

इस अनुमान का आधार

अब चालू वित्त वर्ष के दौरान भारतीय अर्थव्यवस्था की गिरावट सात फीसदी रहने का अनुमान है। मूडीज इन्वेस्टर्स सर्विस के सहायक प्रबंध निदेशक (सावरेन जोखिम) जेने फेंग के अनुसार, ‘हमारा वर्तमान अनुमान यह है कि मौजूदा मार्च 2021 को समाप्त होने वाले चालू वित्त वर्ष में भारतीय अर्थव्यवस्था में सात फीसदी की गिरावट रहेगी। वहीं हम गतिविधियों के सामान्य होने और आधारभूत प्रभाव को देखते हुये अगले वित्त वर्ष में 13.7 फीसदी वृद्धि की उम्मीद कर रहे हैं।

ये भी पढ़ें— Nobel Award for Econocis 2020: पॉल आर मिलग्रोम और रॉबर्ट बी विल्सन को अर्थशास्त्र का नोबेल पुरस्कार, जानें क्या है नीलामी सिद्धांत

एसएंडपी ग्लोबल रेटिंग

इससे पहले क्रेडिट रेटिंग एजेंसी एसएंडपी ग्लोबल रेटिंग ने कहा था कि भारत अगले वित्त वर्ष में 10 फीसदी वृद्धि के साथ सबसे तेजी से उभरती अर्थव्यवस्थाओं में से एक होगा। पर रेटिंग एजेंसी ने यह भी कहा कि भारत की वित्तीय साख की आगे की रेटिंग राजकोषीय घाटे में कमी तथा कर्ज के बोझ पर निर्भर करेगी।

मूडीज इन्वेस्टर्स सर्विस

मूडीज़ इन्वेस्टर्स सर्विस मूडीज कॉरपोरेशन की बॉण्ड-क्रेडिट की रेटिंग करने वाली कम्पनी है। इसको संक्षेप में केवल ‘मूडीज़’ कहा जाता है। मूडीज़ की निवेशक सेवा वाणिज्यिक और सरकारी संस्थाओं के द्वारा जारी किए गए बॉण्डों पर अंतरराष्ट्रीय वित्तीय अनुसंधान का कार्य करती है। मूडीज़ का नाम दुनिया की सबसे बड़ी तीन क्रेडिट रेटिंग एजेंसियों में स्टैंडर्ड एंड पुअर्स और फिच समूह के साथ शामिल है।
मूडीज़ की स्थापना 1909 में जॉन मूडी ने स्टॉक और बॉण्ड तथा बॉण्ड और बॉण्ड रेटिंग से संबंधित सांख्यिकी का मैनुअल बनाने के लिए किया था। यू.एस.सेक्योरिटीज एंड एक्सचेंज कमीशन के द्वारा वर्ष 1975 में कंपनी को राष्ट्रीय मान्यताप्राप्त सांख्यिकी रेटिंग संगठन (NRSRO) के रूप में चिह्नित किया गया था। मूडीज़ निवेशक सेवा वर्ष 2000 में एक स्वतंत्र कंपनी बन गई।

ये भी पढ़ें— Quiz : 25 फरवरी 2021 करेंट अफेयर्स क्विज

ये भी पढ़ें— UPPRPB : यूपी में 9534 दारोगा के पदों पर भर्ती, जानें योग्यता, फीस, सैलरी

ये भी पढ़ें— Narendra Modi Stadium : मोटेरा स्टेडियम अब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम पर, जानें विस्तार से

ये भी पढ़ें— IPL Auction 2021 : क्रिस मॉरिस IPL इतिहास के सबसे महंगे खिलाड़ी, राजस्थान ने 16.25 करोड़ में खरीदा

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *