Ekushey-padak-2021-theedusarthi
Ekushey Padak : एकुशे पदक क्यों और किसे दिया जाता हैं, जानें विस्तार से
February 21, 2021
c-plan-app-theedusarthi
UTTAR PRADESH : सी-प्लान ऐप, पुलिस ऐसे करेगी उपयोग
February 22, 2021

उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार अपने कार्यकाल का अंतिम पूर्ण बजट विधानसभा में पेश कर रही है। प्रदेश के वित्त मंत्री सुरेश कुमार खन्ना सदन में यूपी का बजट पेश कर रहे हैं। यह बजट पूरी तरह पेपरलेस हैं। यह यूपी के इतिहास में अब तक का सबसे बड़ा बजट है। वित्त मंत्री ने 5,50,270 करोड़ रुपये का बजट पेश किया है। यूपी सरकार का यह बजट युवाओं, किसानों व महिलाओं पर केंद्रित है।

वित्त मंत्री ने पेश किया 5,50,270 करोड़ का बजट

वित्त मंत्री सुरेश खन्ना ने योगी आदित्यनाथ सरकार का पांचवा व अंतिम 5,50,270 करोड़ का बजट पेश किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि 2020-21 का बजट युवाओं और रोजगारों को समर्पित है। कर्मचारियों के वेतन और पेंशन का भुगतान किया गया।

किसानों के लिए

सुरेश खन्ना ने कहा कि प्रदेश में अधिक उत्पादक वाली फसलों को चिन्हित किया जाएगा। ब्लॉक स्तर पर कृषक उत्पादन संगठनों की स्थापना की जाएगी, इसके लिए 100 करोड़ रुपये दिए जाएंगे। किसानों को मुफ्त पानी की सुविधा के लिए 700 करोड़ रुपये दिया जाएगा। किसानों को रियायती दाम पर लोन देने का ऐलान किया गया है।

ये भी पढ़ें— Ayodhya Airport : मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्रीराम के नाम पर होगा अयोध्या एयरपोर्ट, जानें महत्वपूर्ण तथ्य

यूपी में एयरपोर्ट

उत्तर प्रदेश में ऑपरेशनल एयरपोर्ट्स की संख्या 4 से बढ़कर 7 हो गई। जनपद अयोध्या में निर्माणाधीन एयरपोर्ट का नाम मर्यादा पुरूषोत्तम श्रीराम हवाई अड्डा अयोध्या होगा इस हेतु 101 करोड़ रुपये की बजट व्यवस्था प्रस्तावित। जेवर एयरपोर्ट में हवाई पट्टियों की संख्या दो से बढ़ाकर छह करने का निर्णय लिया गया है। इस परियोजना हेतु 2000 करोड़ रुपये की बजट व्यवस्था प्रस्तावित है। कुशीनगर एयरपोर्ट को केन्द्र सरकार द्वारा अन्तर्राष्ट्रीय एयरपोर्ट घोषित है। इस प्रकार राज्य में शीघ्र ही 4 अन्तर्राष्ट्रीय एयरपोर्ट लखनऊ, वाराणसी, कुशीनगर व गौतमबुद्धनगर में होंगे। अलीगढ़, आजमगढ़, मुरादाबाद व श्रावस्ती एयरपोर्ट का विकास लगभग पूर्ण हो गया है तथा चित्रकूट तथा सोनभद्र एयरपोर्ट मार्च, 2021 तक पूर्ण होंगे।

अयोध्या के लिए 140 करोड़

अयोध्या स्थित सूर्यकुण्ड के विकास सहित अयोध्या नगरी के सर्वांगीण विकास की योजना हेतु वित्तीय वर्ष 2021-22 के बजट 140 करोड़ रुपये की व्यवस्था का प्रस्ताव। लखनऊ में राष्ट्रीय प्रेरणा स्थल के निर्माण हेतु 50 करोड़ रुपये की व्यवस्था प्रस्तावित।

पेयजल योजना के लिए

पेयजल योजना के लिए 15000 करोड रुपए के बजट की व्यवस्था। 2022 तक शहर और गांवों के घर-घर तक नल से पानी पहुंचाया जाएगा।

कोरोना वैक्सीन के लिए

वित्त मंत्री सुरेश खन्ना ने ऐलान किया कि कोरोना टीकाकरण के लिए 50 करोड़ रुपये प्रस्तावित हैं, जबकि आयुष्मान भारत के लिए 13 करोड़ रुपये प्रस्तावित हैं।

ये भी पढ़ें— Ayodhya: करमुखा पद्धति में तैयार हो रहीं भगवान राम की नगरी अयोध्या, जानें महत्वूपर्ण तथ्य

प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए

प्रतियोगी परीक्षाओं को युवाओं को मुफ्त कोचिंग दी जा रही है, इसके लिए छात्र-छात्राओं को टैबलेट भी दिए जाएंगेष बेरोजगार युवाओं की काउंसलिंग की जा रही है, अभी तक 52 हजार युवाओं को इसका लाभ मिला है।

मजदूरों को 1-1 लाख की मदद

सुरेश खन्ना ने कहा- 20 लाख मजदूरों को 1-1 लाख की मदद की गई। यूपी में कानून व्यवस्था में सुधार हुआ। प्रदेश में व्यापार आसान होगा। 2021-2022 का बजट प्रदेश के सम्रग विकास को समपर्ति होगा।

हैं

ये भी पढ़ें— Quiz : 20-21 फरवरी 2021 करेंट अफेयर्स क्विज

ये भी पढ़ें— JUVENILE : किशोर न्याय अधिनियम 2015 के बारे में विस्तार से, केन्द्र सरकार का संशोधन

ये भी पढ़ें— UP-Police-Flag-Day: जानें यूपी ‘पुलिस झंडा दिवस’ के बारें में महत्वपूर्ण तथ्य

ये भी पढ़ें— Supreme Court Decision: जानें सुप्रीम कोर्ट के सीबीआई जांच संबंधित आदेश के बारे में

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *