BRO Recruitment 2021 theedusarthi
BRO Vacancy 2021 : सीमा सड़क संगठन में 459 पदों पर भर्तियां, जानें योग्यता, चयन प्रक्रिया एवं वेतन
February 19, 2021
27-29-april-2021-current-affairs-quiz-theedusarthi
Quiz : 19 फरवरी 2021 करेंट अफेयर्स क्विज
February 19, 2021

भारत की चीन और पाकिस्तान के साथ तनावपूर्ण स्थिति के बीच भारत ने हेलीना का परीक्षण किया हैं। यह भारत सरकार के आत्मनिर्भर भारत अभियान का हिस्सा हैं। हेलीकॉप्टर से दागी जाने वाली अत्याधुनिक एंटी-टैंक गाइडेड मिसाइल हेलीना का राजस्थान में सफल परीक्षण किया गया। पोखरण में हुए इस परीक्षण में हेलीना मिसाइल अपने टारगेट पर हमला करने में 100 फीसदी सफल हुई। यह मिसाइल किसी भी समय टारगेट पर अटैक करने में सक्षम है। अब यह भारतीय सेना और वायुसेना में शामिल होने के लिए तैयार है।

ये भी पढ़ें— Hypersonic Missile: अमेरिका की ‘महाविध्वंसक’ हाइपरसोनिक मिसाइल, 5 मैक से ज्यादा है स्पीड

हेलिना का परीक्षण

पिछले पांच दिनों में एंटी-टैंक गाइडेड मिसाइल हेलीना का सात किलोमीटर से अधिक रेंज तक परीक्षण किया गया। पांचों बार मिसाइल ने बिल्कुल सटीक टारगेट पर हिट किया। अब यह एचएएल रूद्रा और हल्के लड़ाकू हेलीकॉप्टर पर इंडक्शन के लिए तैयार है। परीक्षण के दौरान इन मिसाइलों को ALH ध्रुव हेलीकॉप्टर से लॉन्च किया गया था। इससे पहले, फरवरी 2019 में ओडिशा के तट पर हेलीना मिसाइल की सफलतापूर्वक टेस्टिंग की गई थी

हेलीना मिसाइल

हेलीना मिसाइल एक तीसरी पीढ़ी का एंटी-टैंक हथियार है, जिसमें इन्फ्रा-रेड सीकर, फायर एंड फर्गट फीचर्स हैं। इसकी तुलना चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) की वायर गाइडेड एचजे-8 और पाकिस्तान द्वारा बनाई गई लेजर गाइडेड मिसाइल BARQ से होती है।

ये भी पढ़ें— Quiz : 18 फरवरी 2021 करेंट अफेयर्स क्विज

खासियत

हेलीना मिसाइल में किसी भी वेदर में कभी भी दिन या रात में दुश्मन देशों के टारगेट पर हमला करने की क्षमता है। इस मिसाइल के जरिए से टारगेट पर डायरेक्ट हिट और टॉप अटैक मोड, दोनों से हमला किया जा सकता है। मिसाइल के भारतीय वायुसेना के वर्जन को ध्रुवस्त्र कहा जाता है। इस मिसाइल को अनुसंधान और विकास संगठन (डीआरडीओ) ने विकसित किया है। इसे पूरी तरीके से स्वदेशी तकनीक से बनाया गया है।

ये भी पढ़ें— Chauri-Chauri : चौरी चौरा शताब्दी समारोह विशेष

ये भी पढ़ें— RBI : एक देश एक लोकपाल की राह पर आरबीआई, जानें क्या होगा फायदा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *