tayar-park-theedusarthi
Innovation: जानें भारत के पहले ‘टायर पार्क’ के बारे में
November 2, 2020
UPI-theedusarthi
UPI: अक्टूबर में UPI की लंबी छलांग, जानें यूपीआई के बारे में विस्तार से
November 2, 2020

सतीश प्रसाद सिंह 1968 में बिहार के मुख्यमंत्री बने थे। चूंकि, महज 5 दिन ही वो बिहार के मुख्यमंत्री की कुर्सी संभाल पाएं। पूर्व मुख्यमंत्री सतीश प्रसाद सिंह का कोरोना वायरस के कारण निधन हो गया है। वे 89 वर्ष के थे।

मुख्यमंत्री बनने की रोचक कहानी

1967 में जब चौथी बिहार विधानसभा के लिए चुनाव हुए थे तो उस समय कांग्रेस को बिहार में बहुमत नहीं मिला था। तब बिहार में पहली बार गैर कांग्रेसी सरकार बनी। उस समय जनक्रांति दल के महामाया प्रसाद सिन्हा को सीएम बनाया गया, लेकिन 1 साल पूरा होने से पहले ही उन्हें कुर्सी छोड़नी पड़ी। तब संयुक्त सोशलिस्ट पार्टी के नेता सतीश प्रसाद सिंह को मुख्यमंत्री बनाया गया। चूंकि, वे भी महज 5 दिन ही सीएम की कुर्सी पर रह सके। उनके बाद में बीपी मंडल को बिहार का मुख्यमंत्री बनाया गया लेकिन वो भी महज 31 दिन ही सीएम की कुर्सी संभाल सके। सतीश प्रसाद सिंह 1980 में कांग्रेस पार्टी के टिकट पर बिहार के खगड़िया सीट से 7वीं लोकसभा के लिए चुने गए थे।

22 सितंबर 2013 में उन्होंने बीजेपी की सदस्यता ग्रहण की थी। चूंकि, उन्होंने लोकसभा चुनाव के दौरान कुशवाहा समुदाय को उचित प्रतिनिधित्व नहीं मिलने का आरोप लगाते हुए विरोध स्वरूप बीजेपी से इस्तीफा दे दिया था।

एक नजर में

  • सतीश प्रसाद सिंह बिहार के सबसे कम समय तक मुख्यमंत्री रहें।
  • महज 5 दिन के लिए बिहार के सीएम रहे थे।
  • ये 1968 में बिहार के मुख्यमंत्री बने थे।

TheEdusarthi.com टेलीग्राम पर भी उपलब्ध है। यहां क्लिक करके आप सब्सक्राइब कर सकते हैं।
Subscribe to Notifications

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *