16 march theedusarthi_current_affairs_quiz
QUIZ: 17 अक्टूबर 2020 करेंट अफेयर्स क्विज
October 17, 2020
onelinehearing-theedusarthi
अनलॉक न्यायालय: ऑनलाइन सुनवाई में टॉपर बना राजस्थान हाईकोर्ट, जानें अन्य न्यायालयों की स्थिति एवं आंकडे
October 18, 2020
Show all

BrahMos: भारतीय नौसेना ने किया ब्रह्मोस सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल का अरब सागर में सफल परीक्षण

Brahmos-theedusarthi

ध्वनि की गति से भी अधिक रफ्तार से उडान भरने वाली सुपरसोनिक ब्रह्मोस क्रूज मिसाइल का आज भारतीय नौ सेना के विध्‍वंसक पोत आईएनएस चेन्‍नई से सफल परीक्षण किया गया। परीक्षण के दौरान ब्रह्मोस ने अरब सागर स्थित ठिकाने पर अचूक निशाना लगाया।
ब्रह्मोस मिसाइल से भारतीय सशस्‍त्र बलों की क्षमता में कई तरह से बढोतरी होगी। यह भारत का प्रमुख प्रहार प्रक्षेपास्‍त्र है जो समुद्र की सतह पर सुदूर ठिकानों को निशाना बना सकता है। इससे भारतीय नौ सेना के विध्वंसक पोतों को एक और घातक अस्‍त्र मिल गया है। विभिन्‍न प्रकार से काम में लायी जा सकने वाली ब्रह्मोस मिसाइल का डिजायन तैयान करने, विकास और निर्माण का कार्य भारत और रूस ने मिलकर किया है।
ब्रह्मोस प्राइम स्ट्राइक हथियार के रूप में नेवल सर्फेस लक्ष्यों को दिन या रात और किसी भी मौसम में समुद्र या सतह पर किसी भी लक्ष्य को 400 किलोमीटर से ज्यादा दूरी तक निशाना बनाकर टारगेट को ध्वस्त करने की क्षमता रखता है। इस तरह यह डिस्ट्रॉयर को भारतीय नौसेना का एक और घातक मंच बना देगा।

मुख्य प्वाइंट एक नजर में

  • भारत के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह है।
  • रक्षा अनुसंधान और विकास विभाग के सचिव और डीआरडीओ के अध्‍यक्ष डॉक्‍टर जी. सतीश रेड्डी है।
  • ब्रह्मोस मिसाइल का विकास भारत एवं रूस के सहयोग से किया गया है।
  • भारत की ब्रह्मापुत्र एवं रूस को मस्कोवा नदी पर इसका मिसाइल का नाम रखा गया है।

TheEdusarthi.com टेलीग्राम पर भी उपलब्ध है। यहां क्लिक करके आप सब्सक्राइब कर सकते हैं।
Subscribe to Notifications

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *