upsssc-theedusarthi
UPSSSC : कनिष्ठ सहायक भर्ती 2017 में इंटरव्यू के लिए अनुपस्थित अभ्यर्थियों को एक और अवसर
October 3, 2020
armenia-azerbaijan-war-theedusarthi
Nagorno-Karabakh War: आर्मेनिया-अजरबैजान में युद्ध के कारण
October 4, 2020

उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार युवाओं को रोजगार की गारंटी देने के लिए एक नया रोजगार आयोग बनाने जा रही है। इसके पदेन अध्यक्ष उपमुख्यमंत्री होंगे। वर्तमान में उत्तर प्रदेश में दो उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य और दिनेश शर्मा है।रोजगार आयुक्त अपनी रिपोर्ट रोजगार आयोग को करेंगे। मुख्य सचिव स्तर के अधिकारी को आयुक्त बनाया जाएगा। रोजगार एवं प्रशिक्षण, उद्यिमता विकास, कौशल सुधार, मनरेगा और अलग-अलग विभागों द्वारा कौशल विकास के लिए जारी प्रशिक्षण एवं स्वरोजगार के कार्यक्रम इस आयोग के अधीन होंगे। रोजगार आयुक्त इन सभी विभागों के लिए समन्वयक का काम करेंगें। उनको यह अधिकार होगा कि वह रोजगार, कौशल प्रशिक्षण से संबंधित निर्देश किसी सरकारी विभाग, निजी संस्था, उद्योग या कंपनी को दे सकेगा।

कहां—कहां मिलेगी नौकरी

इसमें सरकारी सेवा से लेकर गैरसरकारी और निजी क्षेत्र में उपलब्ध रोजगार शामिल हैं। निजी क्षेत्र में उपलब्ध देश और विदेश में उपलब्ध रोजगार के मौके उप्र के युवाओं को उपलब्ध हों इसके लिए सरकार उनको प्रशिक्षण भी दे।

प्रस्तावित आयोग, प्रदेश में उपलब्ध होने वाले रोजगार के सभी अवसरों पर नजर रखेगा। साथ ही यह भी तय कराएगा कि नियुक्तियां पूरी पारदर्शिता से हों। उद्योगों की जरूरत के अनुसार प्रशिक्षण, प्रशिक्षण के बाद नौकरी या स्वरोजगार के इच्छुक युवाओं को बैंकर्स से समन्वय स्थापित कर सरकार की विभिन्न योजनाओं के तहत उनको ऋण दिलवाएगा। अलग-अलग देशों के दूतावासों से संपर्क कर वहां उपलब्ध रोजगार के अवसरों के लिए वह रोजगार मेलों का भी आयोजन कराएगा।

लाइव हिन्दुस्तान टेलीग्राम पर भी उपलब्ध है। यहां क्लिक करके आप सब्सक्राइब कर सकते हैं।

Subscribe to Notifications

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *