theedusarthi_CLAT
क्लैट परीक्षा अब 28 सितंबर को आयोजित होगी, क्लैट के बारे में संपूर्ण जानकारी
August 30, 2020
theedusarthi_sports_award_2020
Awards : 2020 में खेल पुरस्कारों से सम्मानित खिलाड़ी, राष्ट्रीय खेल पुरस्कारों से जुड़े महत्वपूर्ण तथ्य
August 31, 2020

भारत के पूर्वोतर राज्य असम में ब्रह्मापुत्र नदी पर भारत की सबसे लंबी रोपवे सेवा की सुविधा की शुरू हो गई है। कैबिनेट मंत्री हेमंत विश्वाशर्मा ने इसका उद्घाटन किया।

क्या है रिवर रोपवे

रिवर रोपवे नदी के दोनों छोर पर केबल के जरिए मिनी बस टाइप के वाहन से सफर करने वाला माध्यम है या रस्सी के जरिए आर—पार सफर करने वाला माध्यम है। रोपवे की सुविधा पहाड़ी या नदी के इलाकों में प्रयोग किया जाता है।

कहां से कहां तक

इस रोपवे की मदद से लोगों को गुवाहाटी (कचहरी घाट) से उत्तरी गुवाहाटी (डोल गोविंदा मंदिर) तक आसानी से आ जाा सकेंगे। इस दूरी को तय करने में लोगों को 8 मिनट का समय लगेगा। सड़क मार्ग से यह दूरी 24.4 किलोमीटर है। जिसे तय करने में पहले लगभग 1 घंटा समय लगता था। इस रोपवे से यात्रा करने वाले को प्रतिदिन, साप्ताहिक और मासिक पास जारी किए जाएंगे। यह सुविधा सुबह 8 बजे से शाम 6 बजे तक मिलेगी।

ब्रह्मपुत्र नदी:

तिब्बत स्थित पवित्र मानसरोवर झील से निकलने वाली सांग्पो नदी पश्चिमी कैलाश पर्वत से नीचे आने पर ब्रह्मपुत्र कहलाती है।  ब्रह्मपुत्र भारत ही नहीं बल्कि एशिया की सबसे लंबी नदी है। तिब्बत में इसकी लंबाई 1625 किलोमीटर है, भारत में 918 किलोमीटर और बांग्लादेश में 363 किलोमीटर है यानी बंगाल की खाड़ी में मिलने से पहले यह करीब 3,000 किलोमीटर की दूरी तय करती है।  नीलाचल पहाड़, जिस पर मां कामाख्या का मंदिर है, का चरण स्पर्श करने के बाद आगे चलकर अपना विराट रूप धारण कर लेती है। असम के अधिकांश बड़े शहर डिब्रूगढ़, जोरहाट, तेजपुर, गुवाहाटी, धुबड़ी और ग्वालपाड़ा इसी के किनारे बसे हुए हैं।

आंकड़े:

रिवर रोपवे 11 वर्ष में बनकर तैयार हुआ है।

इस परियोजना में 56 करोड़ रूपए खर्च हुए है।

इस रोपवे की लंबाई 1.8 किलोमीटर होगी।

इस रोपवे की निगरानी के लिए 58 सीसीटीवी कैमरों को लगाया गया है।

इससे एक बार में 30 लोग सफर कर सकेंगे।

इस सफर में 8 मिनट का समय लगेगा।

यात्रा करने वालो को एक तरफ का किराया 60 रूपया एवं दोनों तरफ का 100 रूपया लगेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *