UPSC Recruitment 2021 theedusarthi
सिविल सेवा परीक्षा 2019 का रिजल्ट जारी: प्रदीप सिंह बने टॉपर, 829 अभ्यर्थी सफल
August 4, 2020
मुर्मू होंगे सीएजी : जानें सीएजी के बारे में हर बात
August 7, 2020

पूर्व केन्द्रीय मंत्री मनोज सिन्हा को जम्मू—कश्मीर का नया उपराज्यपाल नियुक्त किया गया है। आज 6 अगस्त को इसकी घोषणा हुई है। राष्ट्रपति कार्यालय की ओर से इसकी मंजूरी मिल चुकी है। उपराज्यपाल की नियुक्ति राष्ट्रपति के द्वारा की जाती है।
भाजपा नेता एवं पूर्व केन्द्रीय मंत्री मनोज सिन्हा पूर्वांचल में भाजपा के कद्दावर नेता है। मनोज सिन्हा को गिरीश चन्द्र मुर्मू की जगह जगह जम्मू कश्मीर का उपराज्यपाल नियुक्त किया गया है। गिरीश चन्द्र मुर्मू ने 5 अगस्त को अपने पद से इस्तिफा दे दिया था, जिसे “राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद” की ओर से मंजूर कर लिया गया। ये पिछले वर्ष केन्द्रशासित प्रदेश बनने के बाद जम्मू—कश्मीर के उपराज्यपाल बनाएं गए थे।
मनोज सिन्हा प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के भरोसेमंद राजनेता माने जाते है। ये गाजीपुर से सांसद रहे है। नरेन्द्र मोदी की पहली सरकार में ये रेलवे राज्य मंत्री और संचार राज्यमंत्री का पद संभाल चुके है।
परिचय
मनोज सिन्हा का जन्म 1 जुलाई 1959 को गाजीपुर के मोहनपुरा में हुआ था। इनकी प्राथमिक शिक्षा गांव से हुई थी। ये आईआईटी बनारस से सिविल इंजीनियरिंग में बीटेक और एमटेक ​की उच्च शिक्षा प्राप्त किए है। 8 मई 1977 को इनकी शादी नीलम सिन्हा से हुई थी पेशे से ये सिविल इंजीनियर रहें है। ये बनारस हिन्दु विश्वविद्यालय के छात्र संघ के अध्यक्ष भी रहे है।
मनोज सिन्हा वर्ष 1989 में भाजपा राष्ट्रीय परिषद के सदस्य बने और वर्ष 1996,1999 तथा 2014 में गाजीपुर संसदीय क्षेत्र से सांसद रहे है।

नोट: मनोज सिन्हा गाजीपुर से 3 बार सांसद रहे है।

केन्द्रशासित प्रदेशों में उपराज्यपाल/प्रशासक होते है और राज्यों में राज्यपाल।

इनकी नियुक्ति राष्ट्रपति द्वारा की जाती है।
जम्मू—कश्मीर के पहले उपराज्यपाल गिरीश चन्द्र मुर्मू रहें है।

जम्मू कश्मीर के दूसरे उपराज्यपाल मनोज सिन्हा नियुक्त हुए है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *