राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्रणाली को मजबूत करने के लिए AIIB 500 मिलियन डॉलर देगा
April 17, 2020
one nation one lokpal theedusarthi
RBI ने रिवर्स रेपो रेट घटाकर 3.75% किया
April 17, 2020

16 अप्रैल, 2020 को गृह मंत्रालय के तहत संचालित साइबर समन्वय केंद्र (CyCord) ने जूम एप्लीकेशन की सुरक्षा को लेकर चिंता व्यक्त की है। इसके बाद जूम का उपयोग करने के लिए गृह मंत्रालय ने दिशा—निर्देश जारी किए हैं। गृह मंत्रालय ने इंडियन कंप्यूटर इमरजेंसी रिस्पांस टीम (सर्टिफिकेट-इन) का हवाला देते हुए जूम एप्लीकेशन पर चिंता व्यक्त की है। जूम कॉन्फ्रेंस में अनधिकृत प्रविष्टि को रोकने और अन्य उपयोगकर्ताओं पर दुर्भावनापूर्ण हमले को रोकने के लिए दिशा—निर्देश जारी किए गए हैं।

ये दिए गए हैं दिशा-निर्देश

गृह मंत्रालय ने जोर दिया है कि सरकारी अधिकारियों को आधिकारिक उद्देश्यों के लिए इस एप्लीकेशन का उपयोग नहीं करना चाहिए। अधिकारियों की मुख्य चिंता यह है कि लॉकडाउन के बाद से इस एप्लीकेशन के यूजर्स की संख्या 200 मिलियन से अधिक हो गई है।

साइबर समन्वय केंद्र

Cycord को 2018 में लॉन्च किया गया था। इसे साइबर अपराधों जैसे समाधान खोजने, अनुभव साझा करने, शोध निष्कर्ष, साइबर अपराध से निबटने के लिए समाधान खोजने आदि के लिए वन-स्टॉप प्लेटफॉर्म के रूप में लॉन्च किया गया था।

जूम एप्लीकेशन क्या है

जूम एप्लीकेशन एक वेब आधारित वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग उपकरण है, जो उपयोगकर्ताओं को वीडियो के माध्यम से वार्तालाप की सुविधा प्रदान करता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *